मंगोलिया बनाएगा अपना पहला तेल रिफाइनरी, राजनाथ सिंह करेंगे शिलान्यास

उलन बटोर :

 

इस महीने के आखिर में दक्षिणी प्रांत दोरनोगोवी में मंगोलिया के पहले तेल रिफाइनरी के निर्माण की प्रक्रिया की शुरूआत होगी। मंगोलियाई विदेश मंत्रालय के मुताबिक, मंगोलियाई प्रधानमंत्री उखना हुरेलसुख और भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह 22 जून को रिफाइनरी की नींव रखेंगे। रिफाइनरी 2022 से काम करने लगेगी।

 

 

मंगोलिया के इस पहले तेल रिफाइनरी का शिलान्यास समारोह 22 जून को दोरनोगोवी प्रांत के प्रशासनिक अनुमंडल अल्टानसिरी सौम में आयोजित किया जाएगा।

 

 

भारत इस परियोजना के लिए मंगोलिया को ऋण उपलब्ध कराएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वर्ष 2015 में मंगोलिया के दौरे के वक्त इसका एलान हुआ था।

 

 

 

संयंत्र के निर्माण के बाद प्रति वर्ष डेढ़ मिलियन टन तेल प्रसंस्कृत किया जा सकेगा। प्रति वर्ष 5 लाख 60 हजार टन गैसोलीन, 6 लाख 70 हजार टन डीजल और लिक्विफाइड 1 लाख 7 हजार टन गैस का प्रसंस्करण संभव हो सकेगा।

 

 

माना जा रहा है कि 2022 तक रिफाइनरी काम करने लगेगी और इससे मंगोलिया के सकल घरेलु उत्पाद तकरीबन दस फीसदी का बढ़ावा मिलेगा।

 

 

फिलहाल मंगोलिया चीन को कच्चे तेल का निर्यात करता है जबकि रूस से पेट्रोलियम पदार्थों का आयात करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *